Friday, July 19, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedमहाराष्ट्र में दोगुनी रफ्तार से दौड़ रहा कोरोना, एक्सबीबी के इस वैरिएंट...

महाराष्ट्र में दोगुनी रफ्तार से दौड़ रहा कोरोना, एक्सबीबी के इस वैरिएंट को क्यों खतरनाक बता रहे डॉक्टर

मुंबई: बीते 24 घंटों में महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामलों की संख्या दोगुनी पहुंच गई है। विशेषज्ञों का मानना है कि एक बार फिर से सब वेरिएंट XBB 1.16 का असर ज्यादा देखने को मिल रहा है। मार्च के पहले सप्ताह में महाराष्ट्र के जीनोमिक वैज्ञानिकों ने इसकी पुष्टि की थी। जिसमें पाया गया था कि यह वेरिएंट 60 फीसदी मामलों के लिए जिम्मेदार है। कोरोना को लेकर होने वाली मौतों से भी इस सब वेरिएंट को जोड़कर देखा जा रहा है। बीते मंगलवार की बात करें तो महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के 450 नए मामले सामने आए। जो कि बीते 152 दिनों में सबसे ज्यादा हैं। पिछली बार महाराष्ट्र में इतनी ज्यादा संख्या 972 मामलों के तौर पर बीती 27 अक्टूबर को दर्ज की गई थी।

फिर डरा रहे कोरोना आंकड़े
बीते दिन कोरोना से तीन मौतों की जानकारी निकलकर सामने आई है। जिसके बाद मार्च में कोविड -19 से मरने वालों की कुल संख्या 17 पहुंच गई। जो कि एक महीने में नवंबर 2022 के बाद से सबसे अधिक है। जबकि वर्तमान में राज्य में लगभग 2,500 सक्रिय मामले हैं। ओमिक्रॉन वैरिएंट एक्सबीबी 1.16 के बारे में जानकारी देते हुए सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि महाराष्ट्र में नए सब वेरिएंट के साथ 230 रोगियों का पता चला है। इनमें से 151 मामले पुणे से, 24 औरंगाबाद से, 23 ठाणे से, 11-11 कोल्हापुर और अहमदनगर से, आठ अमरावती से और एक-एक मुंबई और रायगढ़ से थे। राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जानकारी देते हुए बताया गया कि एक मरीज को छोड़कर, जिसकी मौत एक अजीब तरीके से हुई। उसके अलावा बाकी सभी मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए हैं।

बाकी सब वैरिएंट की जगह ले रहा XBB 1.16
महाराष्ट्र में SARS-CoV-2 आनुवंशिक अनुक्रमण की ज्यादा जानकारी रखने वाले डॉ. राजेश कार्यकरते ने कहा कि XBB 1.16 राज्य में टेंशन की वजह बन गया है। यह धीरे-धीरे XBB और XBB.1 की जगह ले रहा है। पुणे के बीजे मेडिकल कॉलेज में उनकी टीम ने सबसे पहले इसकी पहचान की और 10 मार्च को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को सूचित किया। उन्होंने कहा कि यह प्रकार अब 60 फीसदी मामलों में देखने को मिल रहा है। हालांकि ज्यादातर रोगियों में इसको लेकर हल्के लक्षण ही दिखे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments