Friday, July 19, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedसभी स्वच्छता से समृद्धि की ओर बढ़े : अनिल पाटिल

सभी स्वच्छता से समृद्धि की ओर बढ़े : अनिल पाटिल

‘एक तारीख एक घंटा’ स्वच्छता पहल में नागरिकों की उत्साहपूर्ण भागीदारी
गोंदिया. व्यक्तिगत स्वच्छता के साथ-साथ सार्वजनिक स्वच्छता बनाए रखना प्रत्येक नागरिक का प्राथमिक कर्तव्य है. हम अपने घर को साफ करते हैं और हमें अपने गांव को भी साफ करना चाहिए, जिससे सभी का स्वास्थ्य ठीक रहेगा. सभी को स्वच्छता से समृद्धि की ओर बढ़ना चाहिए, ऐसी अपील जिप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनिल पाटिल ने ग्रापं कार्यालय कारंजा में आयोजित एक तारीख एक घंटा स्वच्छता अभियान के दौरान की है.
जिला परिषद के वित्त व निर्माण सभापति संजय टेंभरे, उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी नरेश भंडारकर, उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी (पंचायत) गोविंद खामकर, उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी (मनरेगा) दिनेश हरिनखेड़े, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. नितिन वानखेड़े, जिला कार्यक्रम अधिकारी (महिला व बाल विकास) संजय गणवीर, शिक्षाधिकारी (प्राथमिक) डा. महेंद्र गजभिये, अतिरिक्त जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. दिनेश सुतार, नेहरू युवा केंद्र युवा अधिकारी श्रुति डोंगरे, जिला महामारी विज्ञान अधिकारी डा. निरंजन अग्रवाल, जिला पशुपालन अधिकारी डा. कांतिलाल पटले, पं.स. समूह विकास अधिकारी आनंद इंगले, तहसील चिकित्सा अधिकारी डा. वेदप्रकाश चौरगड़े, बाल विकास परियोजना अधिकारी सोनटक्के, सूचना शिक्षा व संचार विशेषज्ञ अतुल गजभिये, कारंजा गांव के सरपंच लोकचंद कापसे, उपसरपंच विट्ठलराव हरडे, ग्राम विकास अधिकारी राधेश्याम बहेकार मुख्य रूप से उपस्थित थे. पूरे देश में “स्वच्छता ही सेवा” पहल चल रही है. महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर कारंजा गांव में इस स्वच्छता अभियान का आयोजन किया गया है. इस गतिविधि में जिले के सभी अधिकारियों ने भाग लिया. जिला परिषद के वित्त व निर्माण सभापति संजय टेंभरे ने ग्रामीणों से अपील की कि वे अपने गांव में स्थायी स्वच्छता के लिए प्रयास करते रहें. इस अवसर पर गोंदिया जिले को कचरा मुक्त बनाने के लिए सतत स्वच्छता संबंधी सामूहिक शपथ ली गई. इसके बाद कारंजा गांव में स्कूली छात्रों ने स्वच्छता को लेकर प्रभात फेरी निकाली और सतत स्वच्छता के प्रति जनजागरूकता पैदा की. संचालन अतुल गजभिये ने किया. इस अवसर पर विस्तार अधिकारी आर.जे. बंसोड़, सी.वी. गावड़, कार्तिक चव्हाण, संगीता अग्रवाल, स्वच्छता विशेषज्ञ इंजीनियर सूर्यकांत रहमतकर, सूचना शिक्षा संचार विशेषज्ञ राजेश उखडकर, मूल्यांकन और नियंत्रण विशेषज्ञ विशाल मेश्राम, मानव संसाधन विकास विशेषज्ञ तृप्ति साकुरे, स्कूल स्वच्छता विशेषज्ञ भागचंद रहांगडाले, समूह समन्वयक करुणा डोंगरे, उमेंद्र भगत, तेजप्रकाश पुंड, कांचन मेश्राम, अधिकारी-कर्मचारी, स्कूली विद्यार्थी व ग्राम कारंजा के नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments