Friday, July 19, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedअटल क्रीडा महोत्सव में रामायण की सीता माता

अटल क्रीडा महोत्सव में रामायण की सीता माता

दीपिका को देखने उमड़ा जनसैलाब
अतिथियो के हस्ते विजयी टीमो को पुरस्कार वितरण
गोंदिया : विगत 5 वर्षो के बाद जिले में जिला परिषद गोंदिया की ओर से क्रीडा व सांस्कृतिक महोत्सव का आयोजन किया गया था जिसका नाम अटल क्रिडा सांस्कृतिक महोत्सव रखा गया था। इस क्रीडा महोत्सव में जिला परिषद के लगभग 90 हजार विद्यार्थी व खिलाड़ियो ने हिस्सा लेकर अपनी कला का प्रदर्शन किया। जिसका समापन गोरेगांव के शहीद जान्या-तिन्या जिला परिषद स्कूल के मैदान पर 25 दिसंबर को हुआ। इस दौरान विजयी खिलाड़ियो की टीमो को पुरस्कार वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमे रामायण फेम पूर्व सांसद सीता माता दीपिका चिखलिया, बॉलीवुड गायक जॉली मुखर्जी एवं हास्य कलाकार वीआयपी विजय पवार को आमंत्रित किया गया था। जैसे ही रामायण की सीता माता दीपिका का आगमन मंच पर हुआ तो देखने वालो की भीड़ उमड़ पड़ी। वहीं बॉलीवुड गायक जॉली मुखर्जी एवं हास्य कलाकार विजय पवार ने उपस्थितो को मंत्रमुग्ध कर अपनी ओर आकर्षित कराया। पश्चात जिला परिषद स्कूल के उत्कृष्ठ खिलाड़ियो की टीम को अतिथियो के हस्ते पुरस्कारो का वितरण किया गया। इस तरह का आयोजन जिले में प्रथम ही बार होने से हजारो की संख्या में नागरिको ने इस महोत्सव का आनंद उठाया।

सांसद मेंढे ने जताई नाराजगी
अटल क्रीडा सांस्कृतिक महोत्सव के समापन कार्यक्रम को संबोधित करते समय सांसद सुनिल मेंढे ने जिला परिषद के अधिकारियो के प्रति नाराजगी व्यक्त की। उन्होने कहा कि जब जनप्रतिनिधियो को प्रशासन की ओर से निमंत्रण पत्रिका दी जाती है तो उन्हें पत्रिका मिली या नहीं इस संदर्भ में प्रत्यक्ष पुछना चाहिए लेकिन इस तरह की कोई प्रक्रिया गोंदिया जिला परिषद प्रशासन द्वारा नहीं की जाती। इसके पूर्व भी इसी तरह के मामले सामने आ चुके है। इसके बाद यदि इस तरह की कोई गलतियां सामने आनी नहीं चाहिए।

समय के अभाव में अतिथियो ने नहीं दिया पुरा समय
इस महोत्सव में रामायण फेम सीता माता दीपिका चिखलिया, बॉलीवुड गायक जॉली मुखर्जी, हास्य कलाकार वीआयपी विजय पवार को अतिथियो के रूप में आमंत्रित किया गया था जो इस महोत्सव के आकर्षण के केंद्र थे। उनकी झलक, उनकी कला तथा उनसे पुरस्कार प्राप्त करने के लिए विद्यार्थी व दर्शको ने कार्यक्रम में हजारो की संख्या में भीड़ लगा दी थी। लेकिन समय के अभाव में उपरोक्त अतिथियो को भी पुरा समय नहीं मिल पाया। जिस कारण उनके हस्ते जिन्हे पुरस्कार प्राप्त करना था वे और उनकी कला का प्रदर्शन देखने पहुंचे दर्शको को निराशा का सामना भी करना पड़ा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments