Friday, April 12, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedनए मतदाताओं के पंजीयन के लिए चलाएं विशेष अभियान

नए मतदाताओं के पंजीयन के लिए चलाएं विशेष अभियान

गोंदिया : आगामी समय में लोकसभा, विधानसभा चुनाव होने है। जिसके लिए प्रशासन के सामने तैयारी के लिए 7-8 माह का समय ही बकाया है। इस अवधि में त्रुटिमुक्त मतदाता सूची, नए मतदाताओं का पंजीयन, ईवीएम के लिए गोदामाे का प्रबंधन आदि बातें अत्यंत महत्वपूर्ण है। 18 वर्ष से अधिक का कोई भी नागरिक मतदाता पंजीयन से वंचित नहीं रहना चाहिए। विशेष रूप से जिले के नए मतदाताओं का अधिक से अधिक पंजीयन करने के लिए अपने-अपने परिसरों की उच्च माध्यमिक शाला, कनिष्ठ एवं वरिष्ठ महाविद्यालयांे से नियमित संपर्क कर मतदाताआंे का पंजीयन करने के निर्देश राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीकांत देशपांडे ने दिए है। वे 17 मार्च को जिलाधिकारी कार्यालय के नियोजन सभागृह में आयोजित समीक्षा बैठक में बोल रहे थे। बैठक में जिलाधिकारी चिन्मय गोतमारे, उपजिलाधिकारी (निर्वाचन) सुभाष चौधरी, सभी मतदाता पंजीयन अधिकारी तथा उपविभागीय अधिकारी सभी सहायक मतदाता पंजीयन अधिकारी तथा तहसीलदार, नायब तहसीलदार, केंद्र स्तरीय अधिकारी एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी के संपर्क अधिकारी विनोद थोरवे उपस्थित थे। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि मतदाता पंजीयन एवं अचूक मतदाता सूची यह मुख्य एजंेडा ध्यान मंे रखकर प्रशासन अभी से तैयारी मंे जुट जाए। नवमतदाता पंजीयन के लिए शाला, महाविद्यालयों मंे नियोजित पद्धति से विशेष अभियान चलाकर जनजागृति करें। इसके लिए संबंधित मुख्याध्यापक एवं प्राचार्यों के संपर्क में रहे। नए मतदाताआंे की ऑनलाइन के साथ ऑफलाइन पंजीयन भी किया जाए। संक्षिप्त पुनर्निरीक्षण कार्यक्रम अंतर्गत मतदाता सूची 100 प्रतिशत अचूक होना अपेक्षित है। इसमंे मृत तथा स्थानांतरित नागरिकांे के नाम काटने, नाम, पते के साथ अन्य यदि कोई दुरूस्ती हो तो वह भी करने के िनर्देश उन्होंने दिए। निर्वाचन विभाग ने महिला, दिव्यांग एवं तृतीयपंथी मतदाताआंे को विशेष प्राथमिकता दी है। दिव्यांग मतदाताआंे का शत प्रतिशत पंजीयन होना आवश्यक है।
जो दिव्यांग मतदाता चल-फिर नहीं सकते उनके िलए पोस्टल बेलेट देने का नियोजन किया गया है। 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाले व्यक्ति के प्रमाणपत्र के लिए जिला शल्य चिकित्सक, जिला स्वास्थ्य अधिकारी एवं समाज कल्याण अधिकारी से संपर्क किया जाना चाहिए। इस संबंध मंे उक्त अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित करने की बात भी उन्होंने कही। 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मतदाताआंे का प्रत्यक्ष निरीक्षण कर उनकी पुष्टी की जानी चाहिए। इसके लिए संबंधित ग्राम पंचायत, नगर परिषद, महानगर परिषद स्तर से सूचियां प्राप्त करे। जिले के मतदान केंद्रांे की तत्काल पड़ताल की जानी चाहिए। मतदान केंद्र वाली शासकीय शालाआंे एवं अन्य इमारतांे की मरम्मत की अावश्यकता होने पर इसके संबंध मंे अभी से नियोजन किए जाने के निर्देश भी उन्होंने दिए। फार्म नंबर 6, 7 और 8 के नागरिकों के दावे अथवा आक्षेप प्रलंबित न रखे जाए। ईवीएम, वीवीपेट रखने के लिए गोदाम का प्रबंध उचित तरीके से करने की सूचना उन्होंने दी। गांेेदिया जिले मंे मतदाता परिचय पत्र को आधार कार्ड से लिंक करने का काम उत्कृष्ठ तरीके से होने पर उन्हांेने समाधान व्यक्त किया। मुख्य चुनाव अधिकारी ने चुनाव के दौरान काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारी एवं डाटा एंट्री ऑपरेटरो की समस्याओं के विषय में भी जानकारी ली।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments