Thursday, July 25, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedपाखंडी बाबा का भंडाफोड़ कर किया गिरफ्तार

पाखंडी बाबा का भंडाफोड़ कर किया गिरफ्तार

चिरेखनी में अनीस की कार्रवाई
गोंंदिया : तिरोडा थाने के तहत ग्राम चिरेखनी के संजय साठवने के शरीर में बाबा प्रकट होने का नाटक कर रहे थे और रोग से मुक्ति दिलाने के लिए तंत्र मंत्र बोलकर राख नींबू दे रहे थे और पैसे ले रहे थे. साथ ही निःसंतान को जन्म देने के लिए संस्कार यह कह रहा था कि पति-पत्नी एक थाली में भस्म लगाकर खा लें तो संतान की प्राप्ति की गारंटी थी. साथ ही इस तरह की गतिविधियों से गांव में अंधविश्वास भी फैल रहा है. जिससे विवाद बढ़ने की आशंका है. ऐसी शिकायत महाराष्ट्र अंधविश्वास उन्मूलन समिति जिला शाखा भंडारा को मिली थी. तदनुसार महाराष्ट्र अंधविश्वास उन्मूलन समिति के कार्यकर्ता दशरथ शहारे, नितेश बोरकर को बाबा के दरबार में भेजा गया. उस समय फरीद बाबा ने दशरथ शहरे से कहा कि आपके घर में एक बहुत पुराने देवता हैं. वह आपको परेशान करती है. आपको उसे बांधने के लिए फिर से यहां आना होगा. इस भस्म को खा लो, निश्चय ही तुम ठीक हो जाओगे. नहीं तो तुम्हारी तबीयत खराब हो जाएगी, ऐसी धमकी दी. तंत्र मंत्र दिया गया और भस्म दी गई, घर के चारों ओर मोवरी और नमक डालने को बताया और 25 मई को आने को कहा. महाराष्ट्र अंधविश्वास उन्मूलन समिति बुबाजी संघर्ष प्रखंड के राज्य सहकार्यवाह विष्णुदास लोणारे, प्रकाश नाकतोडे, चंद्रशेखर भिवगड़े, पुरुषोत्तम गायधने ने तिरोडा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. चिरेखनी में ढोंगी बाबा के दरबार में जब पुलिस पहुंची तो गांव के 20 से 25 पुरुष-महिलाएं उपस्थित थीं. उस समय फिर दशरथ शहरे ने बाबा से कहा कि मेरे पेट में दर्द है, सीने में दर्द है, जी मिचलता है, चक्कर आ रहे हैं. तब बाबा ने तंत्र मंत्र किया और दो नींबू दिए. बाबा डर के मारे जोर-जोर से चिल्लाने लगे. उसने कहा कि तुम्हारे घर के कुसराई देवता तुम्हें तब परेशान नहीं करेंगे जब मुझे घर बांधना होगा. उसी समय विष्णुदास लोणारे ने बाबा से पूछा कि मेरा नाम क्या है बाबा और मैं कौन हूं, कहां से आया हूं. बिना जवाब दिए बाबा ने कहा कि मेरे पास कुछ नहीं आ रहा है. अंधविश्वास उन्मूलन समिति का नाम लेते ही बाबा के शरीर से बाबा गायब हो गया. इसके बाद उन्होंने कहा कि वह लोगों को धोखा नहीं देंगे और लड़ाई नहीं करेंगे. उस समय पुलिस निरीक्षक देवीदास कठाडे, हवालदार नितेश बावने, चेतन भैसारे, नीलेश ठाकरे, महिला पुलिस भूमेश्वरी वराडे ने ढोंगी बाबा संजय साठवने के खिलाफ महाराष्ट्र मानव बलिदान और अन्य अमानवीय अघोरी प्रथा उन्मूलन तहत मामला दर्ज किया है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments