Tuesday, May 21, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedबाघिन के दहशत में 3 गांव

बाघिन के दहशत में 3 गांव

वन विभाग लगा काम पर
गोंदिया. जिले के नवेगांव-नगझिरा टाइगर रिजर्व में 20 मई को राज्य के वन मंत्री सुधीर मुनगंटीवार की उपस्थिति में दो बाघिनों को छोड़ा गया था. बताया जा रहा है कि इनमें से एक बाघिन भटक कर सीधे गोरेगांव तहसील के रापेवाड़ा, चुटिया ओर सोनेगांव इलाके में आ गई है. जिससे ग्रामीणों में भय का माहौल पैदा हो गया है और बताया गया है कि वन विभाग ने बाघिन को प्रकल्प में वापस लाने के लिए काम शुरू कर दिया है.
गोरेगांव तहसील के रापेवाड़ा, चुटिया, सोनेगांव क्षेत्रों में बाघिन देखे जाने की सूचना मिलने के बाद वन विभाग ने इस क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी है और बाघिन की तलाश शुरू कर दी है. ग्रामीणों ने चुटिया और रापेवाड़ा के बीच सदासावली झाडी में बाघिन देखे जाने की सूचना दी है. गुरुवार को दोपहर करीब 12 बजे सोनेगांव के शक्तिबोली में कुछ किसानों ने बाघिन को देखा. वन विभाग के कर्मचारियों ने बताया कि गुरुवार की रात 2 बजे तक बाघिन सोनगांव झील के पास थी. वर्तमान में ज्ञात हुआ है कि इस बाघिन का ठिकाना चुटिया से रापेवाड़ा मार्ग पर सदासावली के घने जंगल में है. वन विभाग की ओर से इस बाघिन को पकड़ने का भरसक प्रयास शुरू कर दिया गया है. इससे पहले वन विभाग भी अपील कर चुका है कि किसान अकेले खेतों में न जाएं.

बाघिन के भटकने की चर्चा
नवेगांव-नगझिरा टाइगर रिजर्व में बाघिन विचरण कर परिसर में आ गई है. बताया जाता है कि इस बाघिन को प्रकल्प में वापस लाने के लिए वन विभाग द्वारा उपाय शुरू कर दिए गए हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments