Saturday, July 13, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedभटके हुए तीन वर्ष के बच्चे को माता-पिता को सौंपा

भटके हुए तीन वर्ष के बच्चे को माता-पिता को सौंपा

गोंदिया. गोदिया में शादी समारोह में शामिल होने आए दंपती के साथ खेलते समय भटके तीन वर्षीय बच्चे के माता-पिता को ढूंढकर सौंप दिया गया.
मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले के नवेगांव ग्रामीण थाने क्षेत्र के लिंगा निवासी एक दंपत्ति अपने 3 साल के नाबालिग बेटे के साथ दो-तीन दिन पहले श्रीनगर गोंदिया में रहने वाले अपने रिश्तेदार के घर एक शादी में आए थे. 21 फरवरी को उनका छोटा बेटा बच्चों के साथ खेलते हुए शहर में भटक गया. भटकते हुए वह मडी चौक में सिंधी कॉलोनी निवासी रिंकु आसवानी को दिखाई दिया. उसने बच्चे को अपने कब्जे में ले लिया और आसपास के क्षेत्र में बच्चे के रिश्तेदारों की तलाश की लेकिन वे कोई नहीं मिला. जिसकी जानकारी शहर पुलिस को दी गई. जब बच्चे से उसके माता-पिता के बारे में पूछताछ की गई तो उसने कुछ नहीं बतया. शहर थाने के सहायक पुलिस निरीक्षक सोमनाथ कदम व संजय पांढरे ने घटना को गंभीरता से लेकर शहर के सोशल मीडिया पर बच्चे की जानकारी प्रसारित की और अपने अधीनस्थ अधिकारियों और चार्ली स्क्वाड के अधिकारियों को उक्त बच्चे के माता-पिता की तलाश करने का निर्देश दिया. उसमें से गोंदिया शहर पुलिस ने पूरी लगन से बच्चे के माता-पिता की तलाश की और मात्र आधे घंटे में ही उसे उसकी मां को सौंप दिया. यह कार्रवाई पुलिस अधीक्षक निखिल पिंगले, अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानंद झा, उपविभागीय पुलिस अधिकारी प्रमोद मडामे के मार्गदर्शन में शहर थाने के प्रभारी अधिकारी सहायक पुलिस निरीक्षक सोमनाथ कदम, सहायक पुलिस अधिकारी संजय पांढरे, सहायक फौजदार कोल्हारे, टेंभुर्णेकर, सिपाही सुमित जैन, राकेश बंजारे, मरस्कोल्हे व अपराध शाखा के अंमलदार ने की है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments