Saturday, July 13, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedलड़की का अपहरण कर बेचने वाला गिरफ्तार

लड़की का अपहरण कर बेचने वाला गिरफ्तार

मौसी की शिकायत पर पुलिस की कार्रवाई : 4 साल से कर रहा था गुमराह
गोंदिया. अपनी ही बेटी का अपहरण कर उसे भोपाल में बेच दिया. जैसे ही पीड़ित लड़की की चाची को पता चला तो उसने तीनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन इस मामले में छिंदवाड़ा का मुख्य आरोपी चार साल से पुलिस को चकमा दे रहा था. आखिरकार उसे छिंदवाड़ा से गिरफ्तार कर लिया गया. आरोपी का नाम वीसखोली सुक्लूधाना, छिंदवाड़ा निवासी प्रवीण उर्फ लक्की राजेश बरमैया (27) बताया गया है.
दिसंबर 2018 में झोपडी मोहल्ला, यादव चौक, गोंदिया निवासी आशा प्रकाश गंगावने की बहन के सतनामी मोहल्ला, यादव चौक गोंदिया से सुनीता मेश्राम ने उसकी बेटी की निक्की दुर्गेश मेश्राम (34), आशा अनिल कांबले (40) के साथ साठगांठ से अपहरण कर लिया और उसे अपने साथ भोपाल ले गए. पैसे के लालच में शुभम डेहरिया (21), जसवंत ठाकुर (25), प्रशांत पांडे (28), लकी बरमैया (22) को बेच दिया गया. इस मामले में आशा प्रकाश गंगावणे ने सभी आरोपियों के खिलाफ शहर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. लेकिन मुख्य आरोपी प्रवीण उर्फ लक्की राजेश बरमैया (27) पिछले चार साल से पुलिस को गुमराह कर रहा था और पुलिस के हाथ नहीं लग ररहा था. पुलिस अधीक्षक निखिल पिंगले, अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानंद झा, उपविभागीय पुलिस अधिकारी सुनील ताजने ने आरोपी को गिरफ्तार किरने के निर्देश दिए थे. शहर थाने के पुलिस निरीक्षक चंद्रकांत सूर्यवंशी के नेतृत्व में उपनिरीक्षक मंगेश वानखड़े, आरक्षक श्यामकुमार कोरे, सिपाही सुमीत जांगडे ने आरोपी को 9 दिसंबर को छिंदवाड़ा से गिरफ्तार किया. जांच थानेदार चंद्रकांत सूर्यवंशी के मार्गदर्शन में पुलिस उपनिरीक्षक मंगेश वानखेडे कर रहे हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments