Thursday, April 25, 2024
Google search engine
HomeUncategorized‘ सिंधी फूड फेस्टिवल ‘ खाने के शौकीनों की दिखी कतारें

‘ सिंधी फूड फेस्टिवल ‘ खाने के शौकीनों की दिखी कतारें

गोंदिया : सिंधी इष्टदेव सांई झूलेलालजी का चेट्रीचंड्र महोत्सव (सिंधी दिवस) गुरुवार 23 अप्रेल को उमंग, उत्साह और हर्षोउल्हास के साथ मनाया जाएगा। झूलेलाल जयंती अवसर पर 5 दिवसीय विभिन्न आयोजन रखे गए। पुज्य सिंधी जनरल पंचायत की अगुवाई तथा क्षेत्रीय पंचायतों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के संयुक्त तत्वधान में 21 मार्च मंगलवार को स्थानीय सिंधी स्कूल प्ले-ग्राउंड पर आनंदोत्सव मेला (सिंधी फूड-फेस्टिवल) का आयोजन किया गया। आनंदोत्सव का उद्देश्य समाज बंधुओं की सहभागिता , सिंधी व्यंजनों को बढ़ावा तथा सिंधी लोक संगीत नृत्य जैसे सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करना रहा।

प्रसिद्ध सिंधी व्यंजनों का स्वाद चखने का मिला मौका
सिंधी फूड फेस्टिवल में दर्जनों स्टाल लगाए गए थे जहां मात्र 10 रुपये प्रति प्लेट कीमत में सिंधी लजीज़ पकवान एवं व्यंजनों का स्वाद हजारों सिंधी समाज बंधुओं ने उठाया । आयोजन का मकसद सिंधी संस्कृति और खानपान को बढ़ावा देना था , जहां कई फूड स्टॉल आकर्षण का केंद्र रहे , विभिन्न स्टॉल्स पर मौजूद स्वादिष्ट डिशेस ने समाज बंधुओं का ध्यान अपनी ओर खींचा इस दौरान अनेक स्टॉल पर लंबी कतारें देखीं गई।इस मौके पर सिंधी लोक संगीत के थिरकने वाले गानों का लुफ्त भी उठाया गया। आनंदोत्सव मेले में डांस फ्लोर भी बनाया गया था जहां उमंग और उत्साह के साथ लोकगीतों पर सामूहिक नृत्य कर सिंधी समाज बंधुओं ने समां बांधा।फूड फेस्टिवल के सफल आयोजन से पूज्य सिंधी जनरल पंचायत , क्षेत्रीय पंचायतें एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी काफी उत्साहित हैं क्योंकि उम्मीद से ज्यादा लोगों ने फूड फेस्टिवल को अपना समर्थन दिया है।

‘ सिंधियत जी सूंह ’ लजीज़ व्यंजनों के 20 स्टॉल्स सजेसिंधु संस्कृति, सभ्यता की छटा बिखेरती सुहानी बेला पर ‘ सिधियत जी सूंह ’ शीर्षक से एक छत के नीचे 20 से अधिक प्रसिद्ध सिंधी व्यंजनों के स्टाल लगाए गए जहां हजारों की संख्या में उमड़ी भीड़ को स्वाद चखने का मौका मिला। इस दौरान मात्र 10 रुपए प्रति प्लेट की कीमत में कूपन हासिल करने हेतु कतारें देखीं गई।
चटनी-ढोढो-शरबत प्रसाद (श्री प्रेम प्रकाश आश्रम) , वेज सैंडविच ( श्री आनंदपुर दरबार ) शुद्ध देसी घी की भोरी और मालपुआ ( बढ़ते कदम सिंधू सेवा समिति ), टमाटर चटनी एवं लसन की रोटी (संस्था: एक पहल ऐसी भी ) , सतपुड़ा खीर (दूध) में ( सिंधी मनिहारी पंचायत ) , दाल पकवान चटनी ( श्री सिंधी सेवादारी मंडल ) , पपड़ी चाट व दही गुपचुप (रामनगर सिंधी क्षेत्रीय पंचायत) , पल्ली ढोढो चावल की रोटी एंव साग ( मस्त कलंदर सेवा समिति ) , बर्फ का गोला ( श्री श्रीनगर सिंधी पंचायत) , पटाटा बीह पनीर जा पकौड़ा , आलू पनीर भजिया ( सिविल लाइन सिंधी पंचायत ) , आइसक्रीम पानी बोतल ( विश्व सिंधी सेवा संगम ,युवा विंग ) , दही बड़ा ( श्री झूलेलाल चैरिटेबल ट्रस्ट ), सुंदर मिठाईयां ( श्री नवयुवक सेवा मंडल ) , लस्सी छांछ थाधल, पेपर बोट ( सिंधु फ्रेंड्स क्लब ) , कढ़ी चावल ब्रेड छोला ( श्री बाबा गुरमुखदास सेवा समिति ) , आलू टिक्की चाट मैंगो जूस (श्री झूलेलाल पंचायत ) , वेज पुलाव ( आशीर्वाद कॉलोनी सेवा समिति ) , फ्रूट स्टॉल ( श्री विश्व सिंधी सेवा संगम , महिला विंग ) , शीतल पेय जल सेवा ( श्री हरे माधव परमार्थ समिति ) इस तरह आनंद उत्सव मेले में एक ही छत के नीचे सिंधी फूड फेस्टिवल में लजीज व्यंजनों का स्वाद चखने का मौका हजारों ने उठाया , विशेष महत्व की बात यह है कि इन व्यंजनों को तैयार कर गरमा गर्म परोसा गया।निशुल्क पार्किंग व्यवस्था की जिम्मेदारी एक दिशा संस्था व श्री अमर शहीद हेमू कालाणी सेवा समिति ने निभाई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments