Tuesday, May 21, 2024
Google search engine
HomeUncategorized1605 आंगनवाड़ियोग को रोशनी का इंतजार

1605 आंगनवाड़ियोग को रोशनी का इंतजार

गोंदिया. प्राथमिक शिक्षा पूर्व बच्चों को बेसिक शिक्षा, पौष्टिक आहार व गर्भवती महिला ओर स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सरकार द्वारा आंगनवाड़ी केंद्र शुरू किए गए हैं. लेकिन इन आंगनवाड़ी केंद्रों की सुविधाओं की ओर सरकार का ध्यान नहीं है. गोंदिया जिले की कुल 1805 आंगनवाड़ियां में से करीब 200 में सौर ऊर्जा व अन्य प्रकार से बिजली की सुविधा उपलब्ध है. लेकिन 1605 आंगनवाड़ियों के पास किसी भी प्रकार की सुविधा नहीं है. 12 महीने शुरू करने वाले आंगनवाड़ी केंद्रों में विविध सुविधाएं देने का दावा सरकार करती है. लेकिन इन केंद्रों में बिजली मीटर तक नहीं है. गर्मी के मौसम में जब तापमान 40 डिग्री सेल्सियस को पार कर जाता है तब कूलर, पंखे की हवा भी लोगों को राहत नहीं दे पाती. आंगनवाड़ी केंद्रों को बिजली कनेक्शन व अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने को लेकर ग्राम पंचायत, नगर पंचायत, नगर पालिका कितनी गंभीर है, इसका आभास भी केंद्रों की स्थिति से हो रहा हैं.

दो बार सौंपा ज्ञापन
जिले में आंगनवाड़ी केंद्रों में बिजली देने की मांग मैं अपने पिछले कार्यकाल से करती आ रही हुं. पालकमंत्री, महिला व बालकल्याण मंत्री को दो बार ज्ञापन सौंपा है. सरकार को केंद्रों के लिए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवानी चाहिए.
सविता पुराम, सभापति, महिला व बालकल्याण, जिप गोंदिया

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments