Wednesday, May 22, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedअब तक सिर्फ 7 हजार क्विंटल धान खरीदी

अब तक सिर्फ 7 हजार क्विंटल धान खरीदी

जिले में खुले 160 खरीदी केंद्र
गोंदिया : जिले में धान खरीदी का विषय प्रतिवर्ष खरीफ हो या रबी दोनों मौसम में हमेशा चर्चित रहता है. जिले में मार्केटिंग फेडरेशन के अधिकारी के कथनानुसार 160 शासकीय धान खरीदी केंद्र ग्रीष्मकालीन रबी मौसम के धान की खरीदी के लिए शुरू किए जा चुके हैं. लेकिन अब तक इसमें सिर्फ 5 से 7 हजार क्विंटल धान की खरीदी ही हुई है.
उसी प्रकार अर्जुनी मोरगांव व सड़क अर्जुनी तहसील में मक्के की शासकीय खरीदी के लिए कुल 6 केंद्रों को मंजूरी मिली है. किंतु अब तक यह केंद्र शुरू ही नहीं हो पाए हैं. जिससे अब तक जिले में 1 क्विंटल मक्का भी शासन की ओर से नहीं खरीदा जा सका है. जिला मार्केटिंग अधिकारी विवेक इंगले ने बताया कि मक्के की खरीदी के लिए केंद्र मंजूर किए जा चुके है. लेकिन गोदाम अब तक उपलब्ध न होने से यह खरीदी शुरू नहीं हो पाई है. गोदाम की व्यवस्था होते ही मक्के की शासकीय खरीदी शुरू कर दी जाएगी. उन्होंने यह भी बताया कि वे 24 मई को गोदामों की व्यवस्था करने के लिए अर्जुनी मोरगांव भी गए है. शासकीय धान खरीदी के लिए 160 केंद्र शुरू करने की जानकारी उन्होंने दी. लेकिन जब उनसे पूछा गया कि इतने सारे केंद्र शुरू रहने के बावजुद केवल 5-7 हजार क्विंटल धान की खरीदी कैसे हुई? तो उन्होंने उत्तर दिया कि वर्तमान में कटाई और चुराई का काम चल रहा है. अगले कुछ दिन में खरीदी में तेजी आएगी. जबकि वास्तविकता यह है कि जिन केंद्रों को धान खरीदी की मंजूरी देकर शुरू करने के आदेश दिए गए है वहां के केंद्र संचालक अपनी कुछ मांगों को लेकर खरीदी शुरू न करने पर अड़े हैं. इस संबंध में जब जिला मार्केटिंग अधिकारी से पूछा गया कि क्या इसी कारण से शासकीय धान की खरीदी केंद्र शुरू होने के बावजूद नहीं के बराबर है तो उन्होंने सहमति व्यक्त करते हुए कहा कि यह भी इसका एक कारण है और संस्था संचालकों की मांगे उचित भी है. लेकिन इस संबंध में निर्णय लेने का अधिकार उन्हें नहीं बल्कि शासन को है. वे केवल शासकीय आदेशों का पालन कर सकते है. लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई की शीघ्र ही कोई न कोई समाधान निकल आएगा और धान खरीदी तेजी से शुरू हो जाएगी.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments