Tuesday, April 23, 2024
Google search engine
HomeUncategorized134.07 करोड़ की गटर योजना का निष्क्रिय दर्जे का काम : इरफान...

134.07 करोड़ की गटर योजना का निष्क्रिय दर्जे का काम : इरफान सिद्दीकी

जिलाधिकारी नें नप मुख्य अधिकारी चौहान को 7 दिन के अंदर मांगा जवाब
गोंदिया : शहर में नगर परिषद द्वारा 134.07 रूपये लागत से गटर योजना का काम सुरू है. यह गटर योजना काम निष्क्रिय दर्जे का होने से नागरिकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है. गटर योजना के काम के चलते अनेक जगहों पर गड्ढे निर्माण हो गये हैं. जिसके चलते सिव्हिल लाइन के मामा चौक परिसर में भूस्खलन की घटना घटित हुई. गनिमत रही की, जानमान का नुकसान नही हुआ. शहर में चल रहे काम की उच्चस्तर पर जांच पडताल की जाये, एसी मांग समाजसेवक इरफान सिद्धिकी ने जिलाधिकारी को दिये गये ज्ञापन द्वारा की. जिसके चलते जलाधिकारी चिन्मय गोतमारे ने नगर परिषद के मुख्य अधिकारी करण चौहान को 7 दिन के भीतर जवाब मांगा.
आज तक १३४.०७ करोड की गोंदिया गटर योजना लक्ष्मी कंस्ट्रक्शन के ठेकेदार पर एक भी गुन्हा दाखिल नहीं हुआ है । इन दुर्घटनाओं की जानकारी पुलिस विभाग को दी गई और ना जाने कितने लोग इस गोंदिया गटर योजना के निर्माण कार्य में बरती गई लापरवाही के कारण दुर्घटनाग्रस्त / क्षतिग्रस्त हुए हैं, जिन्होंने पोलिस में शिकायत दर्ज नहीं करवायी होगी । इतनी शिकायतों के दर्ज होने के पश्चात भी दोषी व्यक्ति के खिलाफ कोई गुनाह दर्ज नहीं किया गया। इरफान सिद्दीकी एवं गोंदियावासियों की मांग है कि दोषी अधिकारी/कर्मचारी / ठेकेदार/ अभियंता पर गुन्हा दर्ज किया जाये और पीडितों को आर्थिक सहायता प्रदान कर न्याय प्रदान किया जाये । अतः आपसे पुनः निवेदन है कि इस १३४.०७ करोड रुपयों की गोंदिया गटर योजना की संपूर्ण निष्पक्ष जाँच कराई जाये व लक्ष्मी कंस्ट्रक्शन के ठेकेदार के खिलाफ श्री नेवारे की मौत / हत्या बाबद फौजदारी गुन्हा दर्ज कराया जाये। बता दे कि, समाजसेवक इरफान सिद्धिकी ने इसके लिए जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया. जिसके चलते जलाधिकारी चिन्मय गोतमारे ने नगर परिषद के मुख्य अधिकारी करण चौहान को 7 दिन के भीतर जवाब मांगा.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments