Friday, July 19, 2024
Google search engine
HomeUncategorizedएसीबी ने पटवारी को रंगेहाथ पकडा

एसीबी ने पटवारी को रंगेहाथ पकडा

3 हजार रु. की मांग था रिश्वत
गोंदिया. जमीन के फेरफार के लिए ढाई हजार रु. की रिश्वत लेने वाले पटवारी को एसीबी विभाग की टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया. यह कार्रवाई गुरुवार, 19 अक्टूबर को डुग्गीपार थाने अंतर्गत ग्राम चिखली के पटवारी कार्यालय में की गई. रिश्वत लेने वाले पटवारी का नाम अर्जुनी मोरगांव निवासी सुरेन मुन्ना मारगाये (38) है.
शिकायतकर्ता एक किसान है और उसके पिता के पास चिखली पटवारी कार्यालय के अंतर्गत ग्राम नैनपुर क्षेत्र में सर्वेक्षण क्र. 332 व 333 की 0.34 और 0.54 हेक्टेयर खेती शिकायतकर्ता व उसकी भाभी के पक्ष में पुरस्कार पत्र जारी किया गया है. शिकायतकर्ता ने पुरस्कार पत्र 26 सितंबर को उप रजिस्ट्रार कार्यालय में पंजीकृत किया है. शिकायतकर्ता ने पुरस्कार प्रमाण पत्र की पंजीकरण प्रति और संशोधन के लिए आवेदन 3 अक्टूबर को पटवारी कार्यालय में जमा करने का अनुरोध किया. काम करने के लिए सुरेन मारगाये ने उससे तीन हजार रु. की मांग की थी. शिकायतकर्ता रिश्वत नहीं देना चाहता था, इसलिए उसने एसीबी विभाग के कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई. शिकायत की पुष्टि करने के बाद एसीबी विभाग की टीम ने 19 अक्टूबर को चिखली के पटवारी कार्यालय में जाल बिछाया. आरोपी सुरेन मारगाये ने तीन हजार रु. की मांग की और समझौता करने के बाद ढाई हजार रु. की रिश्वत ली. इस पर टीम ने उसे रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया. आरोपी के खिलाफ डुग्गीपार थाने में मामला दर्ज किया गया है. यह कार्रवाई पुलिस उपअधीक्षक विलास काले, पुलिस निरीक्षक अतुल तावड़े, पुलिस निरीक्षक उमाकांत उगले, सहायक फौजदार विजय खोब्रागड़े, चंद्रकांत करपे, सिपाही संजय बोहरे, मंगेश कहालकर, सिपाही संतोष शेंडे, संतोष बोपचे, अशोक कापसे, प्रशांत सोनवणे, कैलाश काटकर, महिला सिपाही संगीता पटले, रोहिणी डांगे, चालक सिपाही दीपक बाटबर्वे ने की.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments